मोहम्मद शमी-हसीन जहाँ विवाद।

0

मोहम्मद शमी, भारतीय तेज गेंदबाजी का एक चमकता सितारा, जिसे मैदान पर गेंद को दोनों तरफ घुमाने में महारत हासिल है, जो अफ्रीका दौरे पर टीम की फ़ास्ट बॉलिंग की रीढ़ बना रहा, जो जरूरत पड़ने पे हमेशा टीम को नई और पुरानी, दोनों गेंदों से विकेट दिलाता रहा है। भारत में क्रिकेट देखने वाला एक बड़ा तबका शमी का फैन है और उनके हर अच्छे-बुरे वक्त में उनके साथ खड़ा रहा है। जब इस्लामी कट्टरपंथियों ने शमी की बीवी के कपड़ों पर ऐतराज किया तब भी ना सिर्फ शमी का ये फैन बेस बल्कि शमी ने खुद भी आगे आकर अपनी बीवी का बचाव किया। शमी हमेशा ही एक अच्छे पति नजर आए।

अफ्रीका में जब भारत ने 2-1 से टेस्ट श्रृंखला गंवाई तो भी मुझको और मेरे जैसे कई क्रिकेट प्रेमियों को संतोष था कि सबसे ज्यादा विकेट तो अपने बॉलर ने लिए हैं। मोहम्मद शमी खुद भी 3 मैचों में अपने लिए गए 15 विकेटों के प्रदर्शन से बहुत खुश रहे होंगे। उसके बाद एकदिवसीय श्रृंखला और ट्वेंटी-ट्वेंटी श्रृंखला जीत भारत ने वाकई में खुशी का मौका दे दिया। लेकिन इस दौरे से लौटते वक्त शमी को अहसास नहीं रहा होगा कि मार्च का महीना उनके लिए क्या ला रहा है।

6 मार्च, ये तारीख शायद ही कभी भूलेंगे शमी। 6 मार्च को शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपने फेसबुक अकॉउंट से करीब दर्जन भर पोस्ट कर के दूसरी लड़कियों से शमी के विवाहेत्तर संबंधों का चौंकाने वाला खुलासा किया। और ये मामूली आरोप नहीं थे जिनको शमी आसानी से नकार जाते। हसीन ने ये सारे आरोप बाकायदा सबूतों के साथ लगाए थे। हसीन ने अपनी फेसबुक पोस्ट्स में उन लड़कियों के साथ कथित तौर पर ना सिर्फ शमी की बातचीत के स्क्रीनशॉट्स लगाए, बल्कि लड़कियों की तस्वीरें और फोन नंबर्स भी पोस्ट कर दिया।

सिर्फ इतना ही नहीं, विवाहेत्तर संबंधों से आगे आते हुए हसीन ने घरेलू हिंसा और बाद में मैच फिक्सिंग जैसे संगीन आरोप भी लगाए। हसीन ने पाकिस्तान की एक लड़की के साथ भी शमी के संबंधों का खुलासा किया और कहा कि इसी के साथ मिल के शमी मैच फिक्सिंग करते थे। कुलदीप नाम के किसी लड़के का भी जिक्र आया जो हसीन के मुताबिक शमी को हर दौरे पर लड़कियां सप्लाई करता था। इन आरोपों पर शमी का बचाव, जिसमें उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से पोस्ट कर के कहा कि सब कुछ ठीक है और उनकी पत्नी किसी और के इशारे पर ये सब कर रही हैं, काफी कमजोर लगता है।

शमी ने बाद में प्रेस में आकर ये भी कहा कि अभी होली तक वो मेरे साथ थीं, अफ्रीका दौरे से आने के बाद हम साथ शॉपिंग भी गए थे। वो किसी वजह से किसी और के कहने पे ये सब कर रही हैं। वो फोन भी मेरा नहीं है। जिसके जवाब में हसीन ने कहा कि शमी झूठ बोल रहा है। अफ्रीका दौरे से वापस लौटने के बाद भी उसने मुझसे मारपीट की। शमी का ये अच्छा व्यवहार 23 तारीख से शुरू हुआ जब उसकी BMW में उसका फोन मिल गया। जब शमी ने अपना फोन गायब पाया तो उसके बाद उसको लगा कि अब वो फंस सकता है और फिर ये होली की तस्वीर वगैरह वाला सब नाटक हुआ। हम सुलह के रास्ते से बहुत आगे आ चुके हैं। मैंने समझा-समझा के थक जाने के बाद ये FIR दाखिल करने का कदम उठाया है।

इन सारे आरोपों के बाद अगर मैच फिक्सिंग का आरोप छोड़ दें तो बाकी आरोपों, विवाहेत्तर संबंध और घरेलू हिंसा, में शमी बुरी तरह फंसते नजर आ रहे हैं। जिस तरह से हसीन पूरे मामले में कोई ढील ना देते हुए कड़ी कारवाई का मन बना चुकी हैं और सारे स्क्रीनशॉट्स और फोन रिकॉर्डिंग्स दिखा रही हैं, प्रथम दृष्ट्या शमी ही दोषी नजर आ रहे हैं। बीसीसीआई ने भी शमी के कॉन्ट्रैक्ट पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। आगे क्या होगा ये तो जांच व तमाम कारवाई के बाद ही पता चलेगा लेकिन फिलहाल हम बस सच के सामने आने की ही उम्मीद कर सकते हैं। अगर हसीन सच में पीड़ित हैं, जो कि फिलहाल के घटनाक्रम से लग रहा है, तो शमी पर कारवाई होनी ही चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here